Please wait...

2.55 PM

TAJ CHOTU

view record
24
3.15 PM

DILLI BAZAR

view record
62
4.35 PM

SHRI GANESH

view record
72
6.30 PM

FARIDABAD

view record
XX
8.40 PM

GAZIABAD

view record
XX
10.00 PM

GOLD GALI

view record
XX
11.45 PM

GALI

view record
XX
5.10 AM

DISAWAR

view record
36

`सट्टा` वास्तव में भारत में` जुआ` शब्द का हिंदी रूपांतरण है, जैसा कि हम सभी जानते हैं कि अधिकांश देशों में जुआ कानूनी है लेकिन कुछ देशों में यह अवैध भी है। मानवता का इतिहास "सट्टा" जुआ के इतिहास के साथ अटूट रूप से जुड़ा हुआ है, क्योंकि ऐसा लगता है कि इतिहास में आप चाहे कितनी भी पीछे क्यों न चले जाएं, ऐसे संकेत हैं कि जहां लोग एक साथ इकट्ठा हुए थे, "सट्टा" ने जन्म ले लिया है। हम इस लेख में जुआ के विकास में हर एक मोड़ को ट्रैक करने और समझने का प्रयास नहीं करने जा रहे हैं, लेकिन हम जो समझने की कोशिश कर रहे हैं, वह यह है कि जुआ "सट्टा" एक प्रकार का मनोरंजन है, जिसका अपना इतिहास है।

जुआ (सट्टेबाजी) एक प्रकार का खेल है, जिसमें पैसा दांव पर होता है, अनिश्चित परिणाम वाली घटना पर, धन जीतने के प्राथमिक इरादे के साथ। सट्टा खेलने के लिए किसी को खेल में मौजूद तीन तत्वों की आवश्यकता होती है: विचार (एक राशि), जोखिम (अवसर), और एक पुरस्कार (जीत राशि)। "सट्टा" के परिणाम अक्सर तत्काल होते हैं, जैसे के पासे का एक दांव, चक्के के एक बार घूमना, या मटके से निकला एक लक्की नंबर। जुआ (सट्टेबाजी) एक प्रकार का खेल है, जिसमें पैसा दांव पर होता है, अनिश्चित परिणाम वाली घटना पर, धन जीतने के प्राथमिक इरादे के साथ। सट्टा खेलने के लिए किसी को खेल में मौजूद तीन तत्वों की आवश्यकता होती है: विचार (एक राशि), जोखिम (अवसर), और एक पुरस्कार (जीत राशि)। "सट्टा" के परिणाम अक्सर तत्काल होते हैं, जैसे के पासे का एक दांव, चक्के के एक बार घूमना, या मटके से निकला एक लक्की नंबर। अब सट्टे के भी कई प्रकार होते है, सारी लिस्ट बनाने बैठेंगे तो सुबह से शाम हो जाएगी। भारत में सबसे अधिक २ प्रकार के सट्टे प्रचलन में है। अमुमन हर वर्ग का व्यक्ति इसे खेलता है। इसका विस्तार इतना है की आपको करीब करीब हर भारतीय मोहल्ले में इसे खेलने व खिलाने वाले लोग मिल जायेंगे ।

read more

All Games Records

DATE

DAY

FD

GD

GL

DS

1-5-2021 Sat 29 40 69 XX
2-5-2021 Sun 93 00 59 78
3-5-2021 Mon 96 17 86 27
4-5-2021 Tue 23 88 59 65
5-5-2021 Wed 26 05 25 09
6-5-2021 Thu 62 26 68 08
7-5-2021 Fri X X X 36